Pages

Sunday, February 15, 2009


ये तस्वीर श्री प्रभात जी ने खीचीं है, जो उनके ब्लाग -व्यूफाइंडर पर उपलब्ध है। मुझे जिंदगी से भरा ये चेहरा अपने ब्लाग के लिए बेहतर लगा। सो, बिना उनकी अनुमति के अपने यहां चस्पां कर रहा हूं। मेरी तरह अगर आपकी भी यही राय हो तो लिखकर बताइएः संजीव

2 comments:

संगीता पुरी said...

बहुत सुंदर.....चेहरे पर इतनी स्‍वाभाविक खुशी का राज ?

अशोक मधुप said...

शानदार।